सत्यजीत रे का काल्पनिक जासूसी चरित्र 'फेलूदा' 2016 में फिर से होगा पर्दे पर

0

पीटीआई


‘फेलूदा’ की कहानियों को एक ही फिल्म में पेश करेंगे सत्यजीत रे के बेटे...


सत्यजीत रे द्वारा गढ़ा गया काल्पनिक जासूस चरित्र ‘फेलूदा’ वर्ष 2016 में रूपहले पर्दे पर फिर से वापसी करने वाला है। रे के बेटे संदीप फेलूदा की दो कहानियों को एक ही फिल्म में साथ ला रहे हैं। इस फिल्म का निर्माण इरोज इंटरनेशनल मीडिया करेगा।

संदीप इससे पहले भी फेलूदा पर आधारित फिल्म ‘बोम्बैर बोंबेटे’ का निर्माण कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि वह अपनी आगामी फिल्म के हर आधे हिस्से में एक -एक कहानी दिखाने की योजना बना रहे हैं।

संदीप ने कहा, ‘‘फिल्म ‘बादशाही अंगति’ में दर्शकों ने अबीर को जाने माने काल्पनिक जासूसी चरित्र के किरदार में काफी सराहा था और वह अपने उसी किरदार में रहेंगे। अब से वह मेरे जासूस होंगे।’’ इरोज के एक प्रवक्ता ने कहा कि वह फेलूदा से जुड़ी कहानी पर फिल्म बनाकर काफी खुश हैं और आने वाले दिनों में फिल्म ‘मोंचोरा’ से वह बांग्ला फिल्मों में भी प्रवेश करने जा रहे हैं। इसे भी संदीप ने निर्देशित किया है और यह क्रिसमस पर रिलीज होगी।

फेलूदा पर बनने वाली फिल्म में अबीर के साथ राइमा सेन भी होंगी।