एस्सार हजीरा बंदरगाह के विस्तार पर होगा 800 करोड़ रुपये का निवेश 

0

निजी क्षेत्र की बंदरगाह परिचालक कंपनी एस्सार पोर्ट्स अपने गुजरात के हजीरा स्थित बंदरगाह की लदान क्षमता बढ़ाने के लिए दिसंबर तक 800 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। अभी इस बंदरगाह की क्षमता तीन करोड़ टन वार्षिक है जिसे बढ़ाकर कंपनी पांच करोड़ टन प्रति वर्ष करना चाहती है।

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजीव अग्रवाल ने यहां पत्रकारों से कहा कि 800 करोड़ रुपये का निवेश कर कंपनी अपने हजीरा बंदरगाह की तीन करोड़ टन की वार्षिक क्षमता में दो करोड़ टन क्षमता का विस्तार कर पांच करोड़ टन प्रति वर्ष करेगी।

राजीव अग्रवाल ने बताया कि इसके विस्तार पर पिछले डेढ़ साल से काम जारी है। इस बंदरगाह पर कंपनी का कुल निवेश 3,250 करोड़ रुपये तक पहुंच चुका है।

कंपनी ने एक बयान में बताया कि बढ़ती मांग से मेल करने के लिए कंपनी इस बंदरगाह की मौजूदा लंबाई को 550 मीटर से आगे बढ़ाकर 1,100 मीटर कर रही है, जिसे बाद में 1,650 मीटर तक बढ़ाया जाएगा। कंपनी ने 330 मीटर का काम पूरा कर लिया है और 1,100 मीटर तक का काम दिसंबर तक पूरा हो जाएगा।

विस्तार के बाद इस बंदरगाह पर किसी भी दिए गए समय में सात जहाजों पर एक साथ लदान या उतराई हो सकती है। कंपनी का यह बंदरगाह एक विशेष इकाई है, जिसे एस्सार बल्क टर्मिनल नाम से भी जाना जाता है। हजीरा बंदरगाह हर मौसम में काम करने लायक बंदरगाह है।

(पीटीआई)