एमकॉम की छात्रा एक महीने के लिए बनीं वूप्लर की सीईओ, 1 लाख रुपये मिलेगा वेतन

प्रतियोगिता जीत एक महीने के लिए वूप्लर की सीईओ बनीं नेहा

0

एक ऐसी छात्रा के बारे में जिसे एक महीने के लिए वूप्लर जैसी बड़ी कंपनी का सीईओ बनाया गया है। बेलगाम की रहने वाली नेहा वर्तमान में पुणे में ब्रहन महाराष्ट्र कॉलेज ऑफ कॉमर्स (बीएमसीसी) से एमकॉम कर रही हैं।

वूप्लर ने 3 फरवरी, 2018 को #CEOForAMonth (एक महीने के लिए सीईओए) नाम से एक प्रतियोगिता का आयोजन किया था। प्रतियोगिता की टैगलाइन थी- 'डोन्ट गेट ए जॉब, बी ए सीईओ' अर्थात नौकरी नहीं सीईओ बनो।

नायक फिल्म के अनिल कपूर याद होंगे? फिल्म में वे एक दिन के लिए सीएम बने थे। सोचिए आपको कोई ऐसा मौका मिल जाए तो? ये थोड़ा अजीब होगा! लेकिन आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसी छात्रा के बारे में जिसे एक महीने के लिए वूप्लर जैसी बड़ी कंपनी का सीईओ बनाया गया है। बेलगाम की रहने वाली नेहा वर्तमान में पुणे में ब्रहन महाराष्ट्र कॉलेज ऑफ कॉमर्स (बीएमसीसी) से एमकॉम कर रही हैं।

वूप्लर ने 3 फरवरी, 2018 को #CEOForAMonth (एक महीने के लिए सीईओए) नाम से एक प्रतियोगिता का आयोजन किया था। प्रतियोगिता की टैगलाइन थी- 'डोन्ट गेट ए जॉब, बी ए सीईओ' अर्थात नौकरी नहीं सीईओ बनो।

प्रतियोगिता ने विद्यार्थियों से आग्रह किया कि वे अपने इनोवेशन या 'जुगाड़' का इस्तेमाल कर लीडर अर्थात कंपनी चलाने के हुनर को साबित करें। इस प्रतियोगिता को देश भर के 50,000 कॉलेजों में आयोजित किया जिसमें दो लाख छात्रों ने भाग लिया। नेहा उन 24 अन्य छात्रों में शामिल थीं जिन्हें वूप्लर ने पहली बार बतौर अपना सिटी लेड के रूप में चुना। ये शहर थे जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर से लेकर तमिलनाडु के कांचीपुरम तक।

11 मार्च 2018 को प्रतियोगिता समाप्त हुई और नेहा को विजेता घोषित किया गया। वह अब सीधे एक महीने के लिए, वूप्लर के सीईओ अर्जुन ज़ाचिरिया के साथ काम कर रही हैं। यही नहीं एक महीने बतौर इंटर्नशिप के लिए उन्हें 1 लाख रुपये का वेतन मिलेगा। इंडिया डॉट कॉम के मुताबिक, वूप्लर के सीईओ ने कहा, यह कार्यक्रम युवा और इच्छुक उद्यमियों के लिए एक खोज है जो अपनी क्षमताओं को साबित करना चाहते हैं।

एक मध्यम वर्गीय परिवार से संबंध रखने वाली नेहा प्रतियोगिता जीतने के बाद काफी उत्साहित हैं। एक सीईओ के रूप में सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में जानने के लिए जिज्ञासा के साथ, वह अपनी यात्रा शुरू करने के लिए तैयार हैं। नेहा ने फाइनेंशियल एक्सप्रेस को बताया, "मुझे नहीं पता था कि यह मेरे लिए था #CEOForAmonth चैलेंज ने मुझे एक ग्रेट स्टार्ट दी है और मैं Wooplr का एक हिस्सा होने की संभावना पर बहुत खुश हूँ। मैं अपनी खुशी को बयां नहीं कर सकती। मैं वूप्लर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में अपने कार्यकाल के लिए तैयार हूं।"

ये भी पढ़ें: करना है ज़िंदगी में कुछ बड़ा, तो सीखें इन बड़े लोगों से बड़ी-बड़ी बातें

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी