दूसरों की इमेज बनाने का काम अपने पैसे से शुरु किया मानसी ने, अब बड़ी कंपनियां भी लेती हैं सेवाएं 

0

कहते हैं...फर्स्ट इम्प्रेशन इज़ दी लास्ट इम्प्रेशन. जब तक आप अपने बारे में कुछ कहने की सोचते हैं, उससे पहले ही आपको देखकर लोग आपके बारे में राय बनाने लगते हैं. आपका पहनावा, बातचीत करने का तरीका, व्यवहार, बॉडी लैंग्वेज. कुछ ऐसे पहलूँ हैं जो आपकी पर्सनालिटी को परिभाषित करते हैं. जीवन में सफल होने के लिए ज़रूरी है कि आप एक आकर्षक पर्सनालिटी के धनी हों. हम सब जानते हैं की निजी और व्यावसायिक दोनों जीवन में, आकर्षक पर्सनालिटी बहुत बड़ी भूमिका निभाती है. एक अच्छी पर्सनालिटी आपको खुद पर विश्वास करना सिखाती है. कुछ लोग हैं जो आपकी पर्सनालिटी को निखारने में आपकी मदद कर सकते हैं. मानसी एक ऐसी ही इमेज कंसलटेंट हैं जिन्होंने ‘इमेज कंसल्टिंग सर्विसेज’ नामक फर्म की शुरुआत की है. मानसी, संस्थापक होने के साथ-साथ चीफ ट्रेनर भी हैं और वो मानती हैं कि जीवन में सफल होने के लिए बेहद ज़रूरी है आपकी काबिलियत के साथ-साथ आपकी अच्छी पर्सनालिटी.

योर स्टोरी से बातचीत में मानसी ने कहा,

"हम भारतीयों में आगे बढ़ने की बहुत क्षमता है. लेकिन जैसे एक अच्छे प्रोडक्ट को अच्छे पैकेजिंग की ज़रूरत है. वैसे ही ज़रूरी है कि एक काबिल दिमाग को अच्छी पर्सनालिटी मिले"


शुरुआती दिक्कतें

दूसरों को निखारने के इसी चाह ने मानसी को इस प्रोफेशन में आने के लिए प्रेरित किया. हालाँकि मानसी को अपना फर्म शुरू करने में काफी मुश्किलें हुईं. दो छोटे बच्चों और परिवार की देखभाल के साथ मानसी ने इमेज कंसल्टिंग में नौ महीने का सर्टिफिकेट कोर्स किया और मेरिट ग्रेड से इसे पास किया. लेकिन आपको बता दें की इसमें मेरिट ग्रेड मिलना बहुत मुश्किल होता और काफी मेहनत करनी पड़ती है. बहुतों को सिर्फ पास ग्रेड से ही संतोष करना पड़ता है. लेकिन अगर आपके पास मेरिट ग्रेड हो तो आपकी आगे बढ़ने की संभावनाएं भी काफी बढ़ जाती हैं. मानसी की इसमें काफी रूचि थी इसलिए उन्होंने इसी क्षेत्र में कुछ करने का पहले ही मन बना लिया था. दस साल बतौर एच.आर प्रोफेशनल काम कर चुकीं मानसी ने अपनी सेविंग से संस्था की शुरुआत की. घर की देखभाल के साथ अपना उद्दम संभालना काफी चुनौतीपूर्ण था. लेकिन इस पूरे सफ़र में उन्हें अपने परिवार का पूरा सहयोग मिला. आज मानसी का अपना ऑफिस है और सपोर्ट स्टाफ है. अभी मानसी अकेले ही ट्रेनिंग देती हैं लेकिन उनका कहना है की भविष्य में वो इतनी समर्थ हो जाएँगी कि किसी और को भी बतौर ट्रेनर रख सकें. मानसी कहती हैं, 

"विकसित देशों में ये काफी प्रचलित है. लेकिन भारत में अभी ये एक उभरता उद्यम है. आनेवाले समय में पूरे दक्षिण पूर्व एशिया में इसके बढ़ने की काफी संभावना है. बड़ी बड़ी कंपनियों को इमेज कंसल्टेंट्स की ज़रूरत होती है. यहाँ तक की फिल्म प्रोडक्शन हाउसेज़ के पास भी इमेज कंसल्टेंट्स होते हैं. लेकिन लोगों को अभी इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है"


हमें इमेज कंसल्टिंग की ज़रूरत क्यों होती है..

फ़र्ज़ कीजिय, आपको किसी इंटरव्यू में जाना है, ऐसे में आपके मन में एक सवाल उठता है आपको क्या पहनना चाहिए. आपके तौर तरीके कैसे हों. आप कैसे बात करें. कितनी बात करें. अगर ये सब आपको पता होगा तो इसमें आपको दिमाग लगाने की ज़रूरत नहीं होगी और आप दूसरे अहम् पहलूओं पर ज्यादा ध्यान दे पाएंगे. बड़ी बड़ी कंपनियां अपने स्टाफ के ग्रूमिंग के लिए इमेज कंसल्टेंट्स की मदद लेती हैं. मानसी मानती हैं, 

"इमेज कंसल्टिंग भरोसे पर टिका बिज़ेनस है. इसलिए ज़रूरी है की आपके क्लाइंट्स का आप पर भरोसा हो. अभी मानसी के पास अपने क्लाइंट्स हैं और उन्हें पूरी उम्मीद है कि भविष्य में ये और बढ़ेंगे"


अगर आप में भी दूसरों को सजाने सँवारने की चाहत है तो इमेज कंसल्टिंग आपके लिए है. लेकिन ज़रूरी है की आप पूरी लगन और भरोसे के साथ इसमें आगे बढे. कुछ अलग करने की चाह रखनेवाले छात्रों के लिए इमेज कंसल्टिंग एक बेहतर करियर ऑप्शन हो सकता है और इसमें आगे बढ़ने की भी अपार संभावनाएं हैं. विदेशों में इमेज कंसल्टिंग एक जाना-माना उद्दम है और अब धीरे-धीरे भारत में भी ये तेज़ी से उभर रहा है. लेकिन इसे बतौर करियर अपनाने के लिए ज़रूरी है कि आपकी इसमें रूचि हो ज़रूरी क्षमता हो.

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...