कर्नाटक के इस युवा कपल ने वोटर आईडी की तरह छपवाया अपना कार्ड, समझिए वोट की कीमत

0

राज्य में चुनाव सिर पर हैं। ऐसे में लोगों को वोटिंग के लिए प्रेरित करने के लिए नवयुगल दंपती सिदप्पा और ज्योति ने अपनी शादी का कार्ड वोटिंग कार्ड की तरह छपवाया। बीते महीने 27 अप्रैल को उनकी शादी संपन्न हुई।

सिदप्पा वेड्स ज्योति
सिदप्पा वेड्स ज्योति
सिदप्पा रेलवे में नौकरी करते हैं और साथ ही समाजसेवी भी हैं। उनका कहना था कि हर बार वोटिंग का प्रतिशत काफी कम रहता है और लोग बहुत कम संख्या में वोट देने जाते हैं। इसलिए उन्हें वोट देने के लिए जागरूक करने की जरूरत है।

कर्नाटक में 12 मई को विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं और जनता को लुभाने के लिए नेता हर हथकंडे अपनाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। देश के तमाम राष्ट्रीय नेता अपनी-अपनी पार्टी के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं। लेकिन मतदाताओं को सिर्फ वोट डालने की अपील कोई नहीं कर रहा है। मतदाताओं को जागरूक करने के नाम पर वैसे तो सिर्फ खानापूर्ति ही की जाती है। लेकिन कई बार आम नागरिक भी अपने अनोखे तरीके से लोगों को वोट डालने के लिए प्रेरित कर देते हैं। कर्नाटक के हावेरी जिले में ऐसा ही एक मामला देखने को मिला जहां युवा दंपती ने अपनी शादी का कार्ड वोटर आईडी के रूप में छपवा दिया।

राज्य में चुनाव सिर पर हैं। ऐसे में लोगों को वोटिंग के लिए प्रेरित करने के लिए नवयुगल दंपती सिदप्पा और ज्योति ने अपनी शादी का कार्ड वोटिंग कार्ड की तरह छपवाया। बीते महीने 27 अप्रैल को उनकी शादी संपन्न हुई। सिदप्पा रेलवे में नौकरी करते हैं और साथ ही समाजसेवी भी हैं। उनका कहना था कि हर बार वोटिंग का प्रतिशत काफी कम रहता है और लोग बहुत कम संख्या में वोट देने जाते हैं। इसलिए उन्हें वोट देने के लिए जागरूक करने की जरूरत है।

सिदप्पा ने कहा, 'इस बार के विधानसभा के चुनाव में मैं अपनी शादी के जरिए कुछ खास करना चाहता था। इसके लिए मैंने अपने दोस्त करिबासप्पा से संपर्क किया। वह पुलिस कॉन्स्टेबल है। उसने मुझे सलाह दी कि मैं कुछ ऐसा करूं जिससे लोग वोट देने के लिए प्रेरित हो सकें।' अपने कॉन्स्टेबल मित्र से विचार विमर्श करने के बाद सिदप्पा ने अपनी शादी का कार्ड वोटर आई कार्ड के डिजाइन में छपवाया। चूंकि राज्य में चुनावों के मद्देनजर आदर्श आचार संहिता लागू है इसलिए इस अनोखे कार्ड को प्रिंट करवाने के पहले सिदप्पा ने जिले के डीएम से अनुमति मांगी।

डीएम ने न केवल उन्हें कार्ड छापने की परमिशन दी बल्कि उनकी सोच को सराहा भी। इस कार्ड में सिदप्पा और ज्योति की फोटो भी लगी है। कार्ड में लिखा है कि हर एक वोट कीमती है और वोट डालना हमारा अधिकार ही नहीं बल्कि हमारा कर्तव्य भी है। कार्ड छपने के बाद सिदप्पा ने सबसे पहले जिले के कमिश्नर डॉ. वेंकटेश और एसपी डॉ. परुशुरमा को अपनी शादी का निमंत्रण दिया। कर्नाटक में चुनाव की सारी तैयारियां लगभग पूरी हो गई हैं और दो दिन बाद वोटिंग होनी है। इस चुनाव में जीत या हार का पता तो बाद में ही चलेगा, लेकिन सिदप्पा ने अपने शादी के बहाने एक बड़ी जिम्मेदारी निभा दी।

यह भी पढ़ें: बिहार की मधुमिता शर्मा को गूगल ने दिया एक करोड़ आठ लाख का पैकेज

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी