फ्लाइट में अनाउंसमेंट के जरिए व्यक्ति ने प्रेमिका के सामने रखा शादी का प्रस्ताव

0

नागपुर में एक व्यक्ति ने फ्लाइट में किए जाने वाले अनाउंसमेंट के सहारे अपनी प्रेमिका के सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया। इतना ही नहीं एयर हॉस्टेस ने भी व्यक्ति की पूरी मदद की और स्वागत करते वक्त अपने हाथों में साइन बोर्ड लेकर खड़ी हो गईं, जिसमें लिखा था, "विल यू मैरी मी?"

फ्लाइट में शादी का प्रस्ताव
फ्लाइट में शादी का प्रस्ताव
लड़की ने भी शादी का प्रणय निवेदन स्वीकार कर लिया और सभी यात्रियों ने उनका स्वागत किया। हालांकि यह रोमांटिक तरीका नागरिक उड्डयन महानिदेशलय के निर्देशों का उल्लंघन भी हो सकता है। 

प्रेम चीज ही है ऐसी है जिसमें पड़ने के बाद इंसान के भीतर कुछ भी करने की हिम्मत आ जाती है। अभी हाल ही में जामिया यूनिवर्सिटी की वेबसाइट हैक हो गई थी और उस पर किसी ने अपनी प्रेमिका को जन्मदिन मुबारक कह डाला था। हालांकि वो कृत्य पूरी तरह से अनैतिक और कानूनी तौर पर गलत भी था। लेकिन नागपुर में एक व्यक्ति ने फ्लाइट में किए जाने वाले अनाउंसमेंट के सहारे अपनी प्रेमिका के सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया। इतना ही नहीं एयर हॉस्टेस ने भी व्यक्ति की पूरी मदद की और स्वागत करते वक्त अपने हाथों में साइन बोर्ड लेकर खड़ी हो गईं, जिसमें लिखा था, "विल यू मैरी मी?"

यह नजारा देखकर फ्लाइट में मौजूद यात्रियों ने तालियां बजा दीं। सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में साफ दिख रहा है कि व्यक्ति अनाउंसमेंट सिस्टम के सहारे अपनी प्रेमिका को प्रपोज कर रहा है। इसके बाद जब लड़की अपनी सीट से उठकर गेट तक आई तो व्यक्ति ने हाथ में गुलाब का फूल लेकर घुटने पर बैठकर प्रपोज कर दिया। बताया जा रहा है कि यह घटना 20 मई की है, जब नागपुर से गोवा जाने वाली फ्लाइट में यह दिलचस्प घटना घटित हुई।

एयरलाइन स्टाफ ने भी व्यक्ति की मदद की और वे एयरब्रिज पर हाथ में प्लेकार्ड लेकर खड़े हो गए, जिस पर लिखा था, "विल यू मैरी मी।" लड़की ने भी शादी का प्रणय निवेदन स्वीकार कर लिया और सभी यात्रियों ने उनका स्वागत किया। हालांकि यह रोमांटिक तरीका नागरिक उड्डयन महानिदेशलय के निर्देशों का उल्लंघन भी हो सकता है। इंदौर एयरपोर्ट की डायरेक्टर आर्यमा सान्याल ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए कहा कि यह घटना चूंकि एयरब्रिज पर हुई है इसलिए एयरपोर्ट अथॉरिटी की इजाजत लेने की जरूरत नहीं है। हालांकि फ्लाइट का अनाउंसमेंट सिस्टम इस्तेमाल करने के लिए फ्लाइट कैप्टन की इजाजत जरूरी होती है।

सान्याल ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि प्रपोजल फ्लाइट उड़ने से पहले हुआ और ऐसा लगता है कि व्यक्ति ने सकारात्मक लहजे में इसकी इजाजत मांगी। देश में विमानों के परिचालन को देखने वाली शीर्ष संस्था नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने 2010 में नोटिस जारी कर फ्लाइट में अनाउंसमेंट सिस्टम अनिवार्य कर दिया था। इस सिस्टम के जरिए यात्रियों को सुरक्षा नियमों से अवगत कराया जाता है।

यह भी पढ़ें: 15 साल के संकेत रेप के खिलाफ समाज को जागरूक करने के लिए साइकिल से कर रहे मुंबई की यात्रा 

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी