पेटीएम ने ‘एप पीओएस’ सेवा निलंबित की

कंपनी ने ऐसा ग्राहक की डेटा सुरक्षा एवं निजता संबंधी चिंताओं के चलते किया है।

0

मोबाइल वालेट कंपनी पेटीएम ने नोटबंदी के बाद शुरू की गई अपनी ‘एप पीओएस’ का परिचालन निलंबित कर दिया है। इससे छोटे दुकानदार कार्ड के माध्यम से भुगतान स्वीकार कर सकते हैं। कंपनी ने ऐसा ग्राहक की डेटा सुरक्षा एवं निजता संबंधी चिंताओं के चलते किया है।

पेटीएम फाउंडर सीईओ, विजय शेखर शर्मा
पेटीएम फाउंडर सीईओ, विजय शेखर शर्मा

कंपनी ने यह नयी सुविधा बिक्री के स्थान (पाइंट ऑफ सेल) पर वास्तविक पीओएस मशीन या कार्ड स्वाइप मशीन की जरूरत को हटाने के लिए शुरू की थी। इससे छोटे दुकानदारों को अपने स्मार्टफोन के माध्यम से लेन-देन करने में मदद मिलती है।

यह सुविधा इस सप्ताह ही शुरू की गई इस सेवा को पेटीएम ने वापस ले लिया है क्योंकि उद्योग जगत द्वारा इससे ग्राहक के कार्ड की जानकारियों की सुरक्षा संबंधी चिंताएं व्यक्त की गई थीं।

कंपनी ने अपने ब्लॉग पर लिखा, ‘उद्योग जगत की ओर से मिले कुछ सुझावों के आधार पर हमने इस सुविधा (एप पीओएस) को दुकानदारों को उपलब्ध कराने से पहले अतिरिक्त प्रमाणीकरण करने का निर्णय लिया है। हम इस सेवा को जल्द और अद्यतन के साथ शुरू करेंगे।’ इसमें कहा गया है कि ग्राहकों के डेटा और निजता की सुरक्षा से ज्यादा उनके लिए कुछ भी महत्वपूर्ण नहीं है। ऊंचे मूल्य के 500 रुपये और 1000 रूपये नोट की गैरमौजूदगी से लेनदेन के लिए कुछ सब्जी विक्रेता और छोटे कारोबारी पेटीएम और कार्ड रीडर्स जैसे नकदी रहित पेमेंट का सहारा लेना शुरु कर दिया है।

डिजिटल भुगतान कंपनी पेटीएम ने यह एप विशेषकर उन छोटे दुकानदारों के लिए शुरु किया था, जिनके यहां कार्ड इस्तेमाल की मशीनें नहीं हैं। इससे ये सुनिश्चित होना तय हुआ था कि मौजूदा नकदी संकट से उन्हें कोई कारोबारी नुकसान नहीं हो। इससे स्मार्टफोन व मोबाइल इंटरनेट की सुविधा रखने वाला कोई भी छोटा दुकानदार ग्राहकों से डेबिट व क्रेडिट कार्ड के जरिए भुगतान ले सकता, लेकिन कंपनी ने ग्राहक की डेटा सुरक्षा एवं निजता संबंधी चिंताओं के चलते ‘एप पीओएस’ सेवा को निलंबित कर दिया है।