36वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में इस बार 7,000 कंपनियां भाग लेंगी

पाकिस्तान का नाम भागीदार देशों की सूची में नहीं है। चीन, बांग्लादेश और श्रीलंका सहित 24 देशों की 150 से अधिक कंपनियां इस मेले में अपने उत्पादों को प्रदर्शित करेंगी।

2

प्रगति मैदान में 14 नवंबर से शुरू होने वाले भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ) में इस बार देश-विदेश की करीब 7,000 कंपनियों के भाग लेने की उम्मीद है।

इनमें चीन, बांग्लादेश, श्रीलंका और बांग्लादेश सहित 24 देशों की 150 से अधिक कंपनियां अपने उत्पादों को प्रदर्शित करेंगी। पाकिस्तान का नाम भागीदार देशों की सूची में नहीं है।

मेले की आयोजक संस्था भारत व्यापार संवर्धन संगठन - इटपो के महाप्रबंधक जे. गुना शेकरन ने कहा कि पहली बार व्यापार मेले के टिकट ऑनलाइन उपलब्ध होंगे। चुनिंदा मेट्रो रेल स्टेशनों और प्रगति मैदान के प्रवेश द्वार के अलावा ऑनलाइन भी टिकट उपलब्ध होंगे।

शेकरन ने बताया कि 36वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में इस बार दक्षिण कोरिया भागीदार देश होगा जबकि बेलारूस फोकस देश के तौर पर शामिल होगा। इसके अलावा अफगानिस्तान, भूटान, बांग्लादेश, चीन, कुवैत, सिंगापुर, म्यांमार, ईरान, श्रीलंका, तुर्की, ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका सहित 24 देश इसमें भाग लेंगे। 

मध्य प्रदेश और झारखंड भागीदार देश होंगे जबकि हरियाणा फोकस राज्य के तौर पर मेले में भाग लेगा।

इस साल डिजिटल इंडिया आईआईटीएफ-2016 की मुख्य विषय वस्तु होगी। केन्द्र सरकार के मंडपों और सभी राज्य मंडपों में इसे प्राथमिकता से दिखाया जायेगा। मेले के पहले पांच दिन 14 से 18 नवंबर तक केवल व्यावसायिक दर्शकों के लिये होंगे जबकि शेष दिन आम दर्शकों के लिये मेला खुला रहेगा।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...