सौंदर्य प्रसाधन के बाजार को गंभीरता देने वाली दिग्गज उद्यमी फाल्गुनी नायर

1

सौन्दर्य के बारे में कई लोगों की सोच काफी संकुचित है क्योंकि वे इसे केवल मेक-अप मानते हैं। लेकिन इसके तहत त्वचा की देखभाल, बालों की देखभाल, स्थान आदि से संबंधित काफी उत्पाद आते हैं। पिछले दो साल के दौरान इस कारोबार में लगातार तेजी दर्ज की है।

फाल्गुनी नायर: फोटो साभार, सोशल मीडिया
फाल्गुनी नायर: फोटो साभार, सोशल मीडिया
निवेश बैंक कोटक महिंद्रा कैपिटल की पूर्व प्रबंध निदेशक फाल्गुनी नायर अब एक ऑनलाइन ब्यूटी रिटेलर नाएका का संचालन उसके संस्थापक एवं सीईओ के रूप में कर रही हैं। रतन टाटा की वापसी के बाद से टाटा मोटर्स का बोर्ड में सबसे ज्यादा चर्चित हैं और इस बोर्ड की अकेली महिला सदस्य हैं, फाल्गुनी नायर। 

नायर के मुताबिक, ऑनलाइन कारोबार में अपनी स्थिति मजबूत करने के अलावा कंपनी ऑफलाइन स्टोर भी खोलने पर विचार कर रही है। मैं फ्रांस की ब्यूटी रिटेलर सेफोरा और अमेरिका में उसके कारोबार से काफी प्रभावित हुई। 

निवेश बैंक कोटक महिंद्रा कैपिटल की पूर्व प्रबंध निदेशक फाल्गुनी नायर अब एक ऑनलाइन ब्यूटी रिटेलर नाएका का संचालन उसके संस्थापक एवं सीईओ के रूप में कर रही हैं। रतन टाटा की वापसी के बाद से टाटा मोटर्स का बोर्ड में सबसे ज्यादा चर्चित हैं और इस बोर्ड की अकेली महिला सदस्य हैं, फाल्गुनी नायर। वे मूल रूप से गुजराती हैं। उन्होंने 19 साल तक इन्वेस्टमेंट बैंकर के तौर पर भी काम किया है। एमेजॉन, फ्लिपकार्ट और स्नैपडील जैसे प्रतिस्पर्धियों के बावजूद वह धीरे-धीरे अपने कारोबार को खड़ा करने में जुटी हैं। सौन्दर्य के बारे में कई लोगों की सोच काफी संकुचित है क्योंकि वे इसे केवल मेक-अप मानते हैं। लेकिन इसके तहत त्वचा की देखभाल, बालों की देखभाल, स्थान आदि से संबंधित काफी उत्पाद आते हैं। पिछले दो साल के दौरान इस कारोबार में लगातार तेजी दर्ज की है।

दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की-

नायर के मुताबिक, ऑनलाइन कारोबार में अपनी स्थिति मजबूत करने के अलावा कंपनी ऑफलाइन स्टोर भी खोलने पर विचार कर रही हूं। मैं फ्रांस की ब्यूटी रिटेलर सेफोरा और अमेरिका में उसके कारोबार से काफी प्रभावित हुई। मेरे विचार से सौन्दर्य प्रसाधन के लिए बहुब्रांड खुदरा कारोबार बिल्कुल सही है। ब्रांडों की विविधता वाले बाजार में ग्राहक अपने पसंद का सामान खरीदना चाहते हैं। उनके पास विभिन्न विकल्प मौजूद होते हैं। एकल ब्रांड स्टोर जाने पर उनके पास सीमित विकल्प मौजूद होते हैं। दूसरा, ई-कॉमर्स में मुझे काफी भरोसा है। 2012 में जब मैंने निवेश बैंकिंग छोड़ी थी, तब ई-कॉमर्स का उदय हो रहा था। उस समय मुझे लगा कि यदि मैं सौन्दर्य प्रसाधनों की ऑनलाइन बिक्री शुरू करूं तो वह कारोबार खड़ा करने का सबसे बेहतर तरीका होगा। हमेशा हम ग्राहकों को समग्र समाधान मुहैया कराना चाहते हैं।

वित्त दो साल पहले तक नाएका का सकल मर्केंडाइज मूल्य 22 करोड़ रुपये था जो बढ़कर अब करीब 60 करोड़ रुपये हो चुका है। नायक बताती हैं, मौजूदा वृद्धि दर पर हम इस लक्ष्य तक आसानी से पहुंच सकते हैं बल्कि उससे आगे भी बढ़ सकते हैं। इसके अलावा हम विदेशी ब्रांडों के आयात और वितरण कारोबार भी शुरू करेंगे। साथ ही निजी ब्रांडों को भी लॉन्च करेंगे। इन कदमों से हमें अपनी वेबसाइट पर ब्रांडों की उपलब्धता बढ़ाने में मदद मिलेगी जिनकी संख्या फिलहाल 350 है। दिल्ली हवाई अड्डे पर हमारा एक स्टोर है। हम तीन अन्य स्टोर खोलने की योजना बना रहे हैं जो मुंबई, बेंगलूरु और दिल्ली मेंं होंगे। ये सभी डेस्टिनेशन स्टोर होंगे जहां ग्राहक पेशकश का फायदा उठा सकेंगे। लेकिन बिक्री के लिहाज से मुख्य तौर पर ऑनलाइन चैनल पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

बाजार की अग्रणी योद्धा-

आज सौन्दर्य प्रसाधन क्षेत्र की अधिकांश कंपनियों की कुल बिक्री में ऑनलाइन बिक्री का योगदान करीब 2 फीसदी है। जबकि अगले कुछ वर्षों में वे इसे बढ़ाकर 10 फीसदी करना चाहती हैं। फाल्गुनी के पति संजय और वे दोनों साथ ही आईआईएम अहमदाबाद में पढ़े हैं। दोनों एक ही बैच में थे। संजय उन्हें कॉलेज के दिनों से ही ‘एफएम’ के नाम से बुलाते हैं। दोनों को सुबह जल्दी उठकर पढ़ने की आदत थी और यही कॉमन बात दोनों को करीब ले आई। दोनों ने 1987 में शादी कर ली। दोनों का बेटा अब न्यूयॉर्क में मोर्गन स्टेनले में नौकरी करता है, वहीं बेटी अद्वेता अमेरिका में पढ़ रही हैं।

कुछ समय तक बेटी ने भी साथ काम किया, अब वह हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई की तैयारी कर रही हैं। शादी के कुछ सालों बाद काम के सिलसिले में संजय लंदन और न्यूयॉर्क में रहे, जबकि पढ़ाई के बाद फाल्गुनी एएफ फर्ग्यूसन कंपनी में रहीं और फिर वे कोटक महिंद्रा से जुड़ गईं।

19 साल तक उन्होंने इन्वेस्टमेंट बैंकर के तौर पर काम किया। इसके बाद उन्होंने नाएका के नाम से खुद का ही वेंचर शुरू किया। फाल्गुनी के वेंचर में मशहूर इंडस्ट्रीयलिस्ट सुनील मुंजाल और मारिवाला परिवार ने पैसा लगाया है। नाएका में वे ब्यूटी और वेलनेस प्रोडक्ट देती हैं। यह ऑनलाइन लग्जरी ब्यूटी रिटेलर है, लेकिन इसकी खासियत यह है कि इसमें लोगों की स्किन की जरुरत के हिसाब से उन्हें प्रोडक्ट बेचा जाता है। 

वे बताती हैं कि जब भी कोई महिला ब्यूटी प्रोडक्ट लेने जाती है तो उसे अपनी बॉडी की जरूरत के हिसाब से कौन-सा प्रोडक्ट लेना है, इसका नॉलेज नहीं होता है। हमने बाजार की इसी कमी पर काम करते हुए लोगों को ऐसे प्रोडक्ट देना शुरू किया, जो उनके बॉडी की जरूरत के मुताबिक हों।

ये भी पढ़ें: दृष्टिहीन लोगों के लिए पहली ब्रेल मैग्जीन छापने वाली उपासना मकती

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी