महाराष्ट्र पुलिस कॉन्स्टेबल संघपाल तायडे की सुरीली आवाज सुनकर खो जाएंगे आप

सुरीला पुलिस कॉन्स्टेबल, आवाज़ सुनकर आप भी सोचेंगे कि कहीं कोई सिंगर तो नहीं!

1

महाराष्ट्र के जलगांव जिले में तैनात तायडे इतना खूबसूरत गाते हैं कि उन्हें सुनकर आप यकीन नहीं कर पाएंगे कि वे कोई पेशेवर गायक हैं या फिर पुलिस विभाग में काम करते हैं।

संघपाल ताय़डे (फोटो साभार- फेसबुक)
संघपाल ताय़डे (फोटो साभार- फेसबुक)
2007 में महाराष्ट्र पुलिस की तरफ से कॉन्स्टेबल की वैकेंसी निकाली गई थी। उनका सेलेक्शन हो गया और उन्हें तैनाती मिल गई। लेकिन उनका गाना जारी रहा। इसी दौरान उनके एक साथी का ध्यान उनके गाने पर गया। 

वे एक बार अपने घर से पुलिस स्टेशन ड्यूटी पर जा रहे थे तभी उनके दिमाग में कोई गाना आया और वे उसे गुनगुनाने लगे। उनके साथ एक और पुलिस कॉन्स्टेबल साथी था जिसने अपने स्मार्टफोन पर ही उनका वीडियो रिकॉर्ड कर लिया। 

आजकल सोशल मीडिया का जमाना है जहां खबरों से लेकर गाने और वीडियो और तस्वीरें तेज गति से इधर से उधर होती रहती हैं। इसी गति से न जाने कितने सितारों का उदय हो रहा है। शायद इंटरनेट की यही खूबसूरती है कि आम से आम व्यक्ति भी अपनी काबिलियत से प्रसिद्धि पा सकता है। इस कड़ी में एक नया नाम जुड़ गया है महाराष्ट्र पुलिस में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात संघपाल तायडे का। जलगांव जिले में तैनात तायडे इतना खूबसूरत गाते हैं कि उन्हें सुनकर आप यकीन नहीं कर पाएंगे कि वे कोई पेशेवर गायक हैं या फिर पुलिस विभाग में काम करते हैं।

इन दिनों संघपाल का वीडियो फेसबुक से लेकर यूट्यूब और वॉट्सऐप पर धमाल मचाए हुए है। मूल रूप से मराठी भाषी संघपाल मराठी के साथ-साथ बॉलिवुड के हिंदी गाने भी अच्छे से गाते हैं। खास बात यह है कि उन्होंने गाने की कोई प्रोफेशनल ट्रेनिंग भी नहीं ली है। अपनी लगन के बल पर आवाज को मधुर बनाने वाले संघपाल जितना अच्छा गाते हैं उतने ही विनम्र स्वभाव के भी हैं। वे बताते हैं कि ऐसे ही वो गाने गुनगुनाते रहते थे। उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि उन्हें पूरा देश सुनेगा। एक मध्यमवर्गीय साधारण परिवार में पले बढ़े संघपाल जब बड़े हुए तो नौकरी के लिए सरकारी विभाग में आवेदन करने लगे।

2007 में महाराष्ट्र पुलिस की तरफ से कॉन्स्टेबल की वैकेंसी निकाली गई थी। उनका सेलेक्शन हो गया और उन्हें तैनाती मिल गई। लेकिन उनका गाना जारी रहा। इसी दौरान उनके एक साथी का ध्यान उनके गाने पर गया। वे एक बार अपने घर से पुलिस स्टेशन ड्यूटी पर जा रहे थे तभी उनके दिमाग में कोई गाना आया और वे उसे गुनगुनाने लगे। उनके साथ एक और पुलिस कॉन्स्टेबल साथी था जिसने अपने स्मार्टफोन पर ही उनका वीडियो रिकॉर्ड कर लिया। सुनिए संघपाल का गाया वो गाना-

संघपाल ने जो गाना गाया था वह मराठी फिल्म नटरंग का था। जिसे अजय गोगावले ने गाया था और संगीत है अजय-अतुल का। वे अजय-अतुल के बड़े वाले फैन हैं और उन्हें अपना आदर्श मानते हैं। लोगों ने जब संघपाल को पुलिस की वर्दी में गाते सुना तो उनकी तारीफ किए बिना नहीं रह सके। गाने के अलावा तायडे की दिलचस्‍पी ऐक्टिंग में भी है। वो कई नाटकों में अभिनय कर चुके हैं। संघपाल के घर में उनकी माता के अलावा तीन बहनें भी हैं। 

तायडे ने इसके बाद कई टीवी चैनलों को भी इंटरव्यू दे चुके हैं। संघपाल इस सफलता के लिए अपने साथियों के साथ-साथ जलगांव के पुलिस अधीक्षक को भी धन्यवाद कहते हैं जिन्होंने हमेशा उन्हें गाने के लिए प्रेरित किया और कभी उन पर बंदिश नहीं लगाई। उनकी आवाज सुनकर तो यही लगता है कि उन्हें थाने की बजाय इस वक्त बॉलिवुड में होना चाहिए था, लेकिन घर-परिवार की जिम्मेदारी संभाल रहे संघपाल के लिए फिल्मी दुनिया फिलहाल एक सपना ही है।

यह भी पढ़ें: 101 साल के बीएचयू के इतिहास की पहली महिला प्रॉक्टर रोयाना सिंह से मिलिये

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी