केरल बाढ़: साइकिल खरीदने के लिए गुल्लक में रखे पैसों को किया दान, हीरो ने दी नई साइकिल

0

तमिलनाडु की एक बच्ची की कहानी इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसने साइकिल खरीदने के लिए इकट्ठा किए गए 9,000 रुपयों को केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए दान दे दिया।

अनुप्रिया की ये कहानी जब साइकिल निर्माता कंपनी हीरो साइकिल को पता चली तो उन्होंने अनुप्रिया का पता लगाया और उसे एक नई साइकिल गिफ्ट में दे दी।

पिछले दो महीने से केरल बाढ़ की तबाही से बेहाल है। सड़कों से लेकर घर तक बाढ़ की चपेट में आकर बह गए। सैकड़ों लोगों की जानें गईं और लाखों लोग बेघर हो गए। इस स्थिति में प्रदेश की मदद करने के लिए पूरा देश एकजुट हो गया और दान करने वालों की अनोखी और दिलचस्प कहानियां हम सबके सामने आईं। तमिलनाडु की एक ऐसी ही बच्ची की कहानी इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसने साइकिल खरीदने के लिए इकट्ठा किए गए 9,000 रुपयों को केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए दान दे दिया।

तमिलनाडु के विल्लुपुरम की रहने वाली अनुप्रिया की ये कहानी ट्विटर पर एतिराजन श्रीनिवासन ने शेयर की थी, जिसे काफी लोगों ने रीट्वीट किया और उसकी तारीफ की। श्रीनिविसान ने अपने ट्वीट में लिखा, 'विल्लुपुरम की बच्ची अनुप्रिया ने पिछले चार सालों से अपने गुल्लक में 9,000 रुपये बचाकर रखे थे ताकि वह एक साइकिल खरीद सके। लेकिन केरल की बाढ़ ने उसे दुखी कर दिया और उसने वहां के लोगों की मदद करने के लिए ये पैसे दान कर दिए।'

अनुप्रिया की ये कहानी जब साइकिल निर्माता कंपनी हीरो साइकिल को पता चली तो उन्होंने अनुप्रिया का पता लगाया और उसे एक नई साइकिल गिफ्ट में दे दी। इतना ही नहीं हीरो साइकिल ने अनुप्रिया को 9,000 रुपये भी दिए जो उसने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए दान किए थे। हालांकि अनुप्रिया के पिता ने इन पैसों को लेने से इनकार कर दिया और कहा कि माता-पिता को अपने बच्चों को पैसे बचाने के लिए प्रेरित करना चाहिए।

केरल में बाढ़ की तबाही के बाद जनजीवन धीरे-धीरे पटरी पर आने लगा है। हालांकि, संकट के बादल अभी भी मंडरा रहे हैं। दरअसल, बाढ़ के बाद राज्यभर में संक्रामक बीमारियों का प्रकोप फैला हुआ है। दूषित पानी के संक्रमण से फैली बीमारियों के कारण एक महीने में 28 मौतें हो चुकी हैं। यहां लेप्‍टोस्‍पाइरोसिस के लिए भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। राज्‍य स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय से अधिक दवाओं की मांग की है। हम उम्मीद करते हैं कि केरल बहुत जल्दी बाढ़ की तबाही से उबरेगा और वहां के लोगों का जीवन पटरी पर वापस लौटेगा।

यह भी पढ़ें: अपनी जेब से 7 लाख रुपए खर्च कर गरीब बच्चों को ट्यूशन दे रहा है गुजरात का ये शिक्षक

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी