तेलंगाना का एक गांव गोद लेना चाहते हैं अभिनेता प्रकाश राज

0

पीटीआई


प्रकाश राज तेलंगाना के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के. टी. रामाराव के साथ
प्रकाश राज तेलंगाना के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के. टी. रामाराव के साथ

पहले साउथ इंडियन फिल्म और बाद में हिन्दी फिल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाने वाले अभिनेता प्रकाश राज सामाजिक कार्य में भी लगातार सक्रिय रहे हैं। इसी सक्रियता को जारी रखते हुए उन्होंने एक गांव गोद लेने की इच्छा ज़ाहिर की है। यह इच्छा प्रकाश राज ने तेलंगाना के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के. टी. रामाराव से मुलाकात कर ज़ाहिर की। उन्होंने कहा कि वो तेलंगाना के महबूबनगर जिले में कोंडारेड्डी गांव को गोद लेना चाहते हैं।

एक सरकारी विज्ञप्ति में बताया गया कि प्रकाश ने मंत्री से कहा कि वह सरकार द्वारा शुरू की गई मिशन 'काकतिया और हरिता हरम' जैसी योजनाओं के कार्यान्वयन से प्रभावित हैं।

प्रकाश ने कहा कि उनका फाउंडेशन कर्नाटक में पहले ही कुछ विकासात्मक कार्य चला रहा है।राव ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि सरकार उनके नेक इरादों को पूरा सहयोग देगी।

प्रकाश फिल्मों में आने से पहले स्टेज से लगातार जुड़े रहे। इसी दौरान उन्होंने नुक्कड़ नाटक भी खूब किए। फिल्मों में प्रकाश का पदार्पण कन्नड फिल्म द्वैत से हुआ। उसके बाद प्रकाश ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। तमिल में एक के बाद फिल्में प्रकाश करते गए और देखते ही देखते वो दक्षिण भारतीय फिल्मों का बहुत बडा नाम बन गए। उन्हें मणिरत्नम के निर्देशन में बनी फिल्म कांचीवरम में अभिनय के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 

प्रकाश प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी हैं। इन सब के बावजूद उसका कहना है कि उसकी जिन्दगी में सिनेमा सिर्फ 5 प्रतिशत अहमियत रखता है। वो कहते हैं कि उनके पास इससे भी बढकर और काम हैं जिनमें वो व्यस्त रहते हैं। बॉलीवुड में इस अदाकार ने सन् 2009 में आई बोनी कपूर द्वारा निर्मित और दक्षिण के साथ बॉलीवुड के सुपर डांस स्टार प्रभुदेवा के निर्देशन में बनी सलमान खान अभिनीत वांटेड से बॉलीवुड में दमदार प्रवेश किया। मध्यान्तर के बाद पहली हिन्दी फिल्म के परदे पर नजर आने वाले इस अदाकार को प्रकाशराज के नाम से जाना जाता है। वांटेड के बाद इस अदाकार ने अपनी अदाकारी का जलवा अनीस बज्मी की रेडी में बिखेरा। इस फिल्म में भी उनके साथ सलमान खान थे।

रोहित शेट्टी के निर्देशन में बनी अजय देवगन अभिनीत सिंघम में उन्होंने उसी भूमिका को फिर से अभिनीत किया जिसे वे इसी नाम की मूल फिल्म में पहले दक्षिण में निभा चुके थे। तमिल भाषा में बनी सिंघम का रीमेक थी रोहित शेट्टी की फिल्म सिंघम, जिसे रिलांयस एन्टरटेनमेंट ने दक्षिण के बाद हिन्दी भाषा में बनाया था। इन फिल्मों के सफलता के बाद प्रकाश राज की मांग बॉलीवुड में बढ गई है। बॉलीवुड के तमाम निर्देशक अब उनके अनुसार भूमिकाएं तलाशने में लगे हैं।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...