कैसे एक ऐप के जरिए भारत को फिट कर रहा है ये अनोखा स्टार्टअप

0

 प्ले-स्टोर पर ऐसे तमाम ऐप मिल जाएंगे जो आपको पूरी तरह फिट बनाने की गांरटी ले रहे होंगे। हालांकि ये ऐप डेली रुटीन को लेकर गाइडलाइन के अलावा और कुछ नहीं दे सकते लेकिन स्वास्थ्य और वेलनेस की दुनिया में एक ऐसे ऐप ने कदम रखा है जो इन सभी बातों से बिल्कुल अलग है। 

मुकेश बंसल
मुकेश बंसल
मार्केट में अन्य ऐप के मुकाबले Cure.fit को जो चीज अलग बनाती है वो है कि ये अपने ऑनलाइन और ऑफलाइन चैनलों के संयोजन का उपयोग करके यूजर्स से इंगेजमेंट, कोचिंग और डिलीवरी करती है। यह सब जटिल तकनीक और ग्राहक सेवा के माध्यम से संभव हो गया है।

Cure.fit, मुकेश बंसल और अंकित नागोरी का दो साल पुराना वेंचर है जो स्वास्थ्य और वेलनेस की दुनिया में लोगों की मदद के लिए प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल कर रहा है। प्ले-स्टोर पर ऐसे तमाम ऐप मिल जाएंगे जो आपको पूरी तरह फिट बनाने की गांरटी ले रहे होंगे। हालांकि ये ऐप डेली रुटीन को लेकर गाइडलाइन के अलावा और कुछ नहीं दे सकते लेकिन स्वास्थ्य और वेलनेस की दुनिया में एक ऐसे ऐप ने कदम रखा है जो इन सभी बातों से बिल्कुल अलग है। कंपनी के सह-संस्थापक मुकेश बंसल कहते हैं, "Cure.fit के माध्यम से हम लोगों को एक ही मंच के जरिए भोजन, शारीरिक फिटनेस, मानसिक कल्याण और प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल में स्वस्थ जीवनशैली को बहुत आसान बनाने की कोशिश कर रहे हैं।" जिस प्लैटफॉर्म को लेकर मुकेश बंसल इतने जुनूनी हैं वह दरअसल, यूजर्स कल्याण के लिए चार वर्टिकल को एक साथ मिलाकर काम करता है। ये चार इस प्रकार हैंः Cult.fit के माध्यम से शारीरिक फिटनेस, Mind.fit के माध्यम से मानसिक स्वास्थ्य, Eat.fit के माध्यम से स्वस्थ भोजन और Care.fit के माध्यम से कार्यों में यूजर्स की देखभाल करना। Cure.fit की योजनाओं में जल्द ही व्यक्तिगत स्वास्थ्य देखभाल समाधान प्रदान करना शामिल है।

इसे ऐसे समझिए, क्योर डॉट फिट ऑनलाइन तथा ऑफलाइन माध्यमों से 4 श्रेणियों में कल्ट डॉट फिट, ईट डॉट फिट, माइंड डॉट फिट और केयर डॉट फिट अपने उत्पाद और सेवायें उपलब्ध कराता है। माइंड डॉट फिट योग और ध्यान और ईट डॉट फिट सबस्क्रीप्शन आधारित हाथ से बने पौष्टिक खाने की डिलीवरी पर फोकस करता है जबकि कल्ट डॉट फिट फिटनेस सेंटर्स की श्रृंखला है। मार्केट में अन्य ऐप के मुकाबले Cure.fit को जो चीज अलग बनाती है वो है कि ये अपने ऑनलाइन और ऑफलाइन चैनलों के संयोजन का उपयोग करके यूजर्स से इंगेजमेंट, कोचिंग और डिलीवरी करती है। यह सब जटिल तकनीक और ग्राहक सेवा के माध्यम से संभव हो गया है।

इस सब के पीछे (इंटेलिजेंट) तकनीक

हेल्थ एंड वेलनेस स्टार्ट-अप Cure.fit ऐप को लोग इस्तेमाल करते हैं उन्हें आनंद मिलता है लेकिन इसके पीछे जो होता है उसे जानकर आप काफी आकर्षित होंगे। दरअसल कंपनी तकनीक का बेहद ही शानदार तरीके से इस्तेमाल कर रही है। जब आप Cure.fit पर किसी से बात करेंगें तो वे आपको बताएंगे कि कंपनी न केवल समस्याओं को हल करने के लिए तकनीक का लाभ उठा रही है बल्कि समय पर और कुशल निष्पादन के साथ-साथ ग्राहकों की प्रसन्नता सुनिश्चित करने के लिए भी तकनीक का अच्छा इस्तेमाल कर रही है। Cure.fit के बतौर लीड इंजीनियरिंग अंकित गुप्ता कहते हैं, "ऐप के हर पहलू में बहुत सारी खुफिया जानकारी है।" उदाहरण के लिए, Eat.fit पर, ऑर्डर, मेनू प्रोग्रामिंग और फूड डिलीवरी मैनेजमेंट की प्रिडिक्शन सभी मशीन द्वरा संचालित हैं। टीम घर में डेवलप जटिल तकनीक का इस्तेमाल करती है, जो समय पर डिलिवरी सुनिश्चित करने के लिए अपने ट्रांसपोर्ट फ्लीट को ऑर्डर की संख्या भेजती है।

ऑर्डर के लिए डिमांड प्रिडिक्शन शुरुआत से ही मशीन संचालित है, यूजर्स के बीच फूड ऑर्डर पैटर्न की सही प्रिडिक्शन करने के लिए डेटा प्वाइंट्स की एक बड़ी संख्या का विश्लेषण किया जा रहा है। इन डेटा प्वाइंट्स में व्यंजन, समय और भोजन जैसी चीजें शामिल हैं। मेनू प्रोग्रामिंग भी, तकनीक से सहारे चलती है। एल्गोरिदमिक मेन्यू प्रोग्रामिंग को बनाने के लिए डेटा की कई परतों का विश्लेषण करता है। इसके माध्यम से पौष्टिक रूप से संतुलित भोजन सप्ताह के दौरान दिया जाता है। साथ ही ये फूड सामग्री, पोर्शन साइज, फूड आइटम, डिशेस की लोकप्रियता आदि में मैक्रो और सूक्ष्म पोषक तत्वों का ध्यान रखता है। एल्गोरिदम यह भी सुनिश्चित करता है कि व्यंजनों को बार-बार दोहराया न जाए।

Cult.fit और Mind.fit पर भी रोज का संचालन पूरी तरह से मशीन से होता है। चाहे वह तीन शहरों (बेंगलुरू, नई दिल्ली, गुरुग्राम) के 40 विभिन्न केंद्रों में 10 अलग-अलग एक्सरसाइज फॉर्मट के लिए क्लासेस शेड्यूल करना हो या हर रोज 400 क्लासेस के लिए प्रशिक्षकों को आवंटित करना। डेली रुटीन पर ग्राहकों की प्रतिक्रिया ऐप के माध्यम से एकत्र की जाती है और यह सुनिश्चित करने के लिए विश्लेषण किया जाता है कि गलत रुटीन जल्द से जल्द समाप्त किया जाए। प्रशिक्षकों के पास स्वयं का एक ऐप होता है, जो ग्राहक प्रतिक्रिया के आधार पर वरीयताओं, क्लास शेड्यूल, वर्कआउट, उनकी प्रशिक्षण और रेटिंग ट्रैक करता है।

हाल ही में जोड़े गए Cult.fit केंद्र के लिए स्थान का चयन भी मशीन द्वारा किया जाता है। यह कई सौ डेटा प्वाइंट का विश्लेषण करता है, जिसमें इलाके के प्रकार, सेंटर के लिए दृष्टिकोण, सड़क की चौड़ाई, पड़ोस में उपलब्ध अन्य सुविधाएं इत्यादि शामिल हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि ये तकनीक घर में विकसित की गई है। cure.fit के लीड इंजीनियरिंग नितिन अग्रवाल ने हाल ही में योरस्टोरी के भविष्य सम्मेलन में बताया कि, "हम 600,000 से अधिक डेटा पॉइंट्स को सिर्फ एक cult.fit सेंटर के कार्यक्रम के लिए तैयार करते हैं!"

तकनीक और भी

एक संगठन के रूप में, Cure.fit ने ऐप द्वारा जितनी ज्यादा हो सके उतने विकास और विस्तार पर ध्यान केंद्रित किया है। जब उन्होंने एक साल पहले इस ऐप के साथ प्रयोग करना शुरू किया, तो टीम ने केवल तीन इंजीनियरों के साथ शुरुआत की। हालांकि वे ग्राउंड से कई वर्टिकल वाले एक ऐप की अवधारणा को लेकर उत्सुक थे, लेकिन उनके लिए यह आवश्यक था कि वे क्वालिटी के साथ गति को भी संतुलित करें। फ्यूचर ऑफ वर्क कॉन्फ्रेंस में अंकित ने समझाया, "यह एक ही तकनीकी ढेर के बारे में नहीं है, बल्कि इसके बजाय एक मजबूत डिफ़ॉल्ट विकल्प है।" समरूपता उन्हें उत्पादकता को अधिकतम करने में भी मदद करती है। दूसरे प्रोजेक्ट्स पर स्विच करना आसान हो जाता है।

प्रयोग करने की स्वतंत्रता

कंपनी में इनोवेशन और एक्सपेरीमेंट को अत्यधिक प्रोत्साहित किया जाता है। Cure.fit के तेजी से विस्तार और बढ़ती सफलता को खुले दिमाग की संस्कृति के लिए भी जिम्मेदार ठहराया जा सकता है। वे यह कहते हुए सच साबित करते हैं कि जो भी आप करते हैं वह एक प्रयोग है। ये कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी कि, Cure.fit में इंजीनियरिंग टीम में उन लोगों को शामिल किया गया है जिन्होंने पहले गूगल, वॉलमार्ट लैब्स, अमेजॉन, मिंत्रा और फ्लिपकार्ट जैसी दिग्गज कंपनियों के साथ किया है

अब आगे क्या?

Cure.fit डिजिटल और ऑफलाइन दोनों में उपलब्ध है। ग्राहक अपनी सुविधा और पसंद के आधार पर चुन सकते हैं। अपने उपयोगकर्ताओं को स्वस्थ जीवनशैली का नेतृत्व करने में मदद करने के लिए इनोवेशन और Cure.fit की प्रतिबद्धता की यह संस्कृति बताती है कि ऐप की सहायता से ग्राहक अपने आप क्या कर सकते हैं। Cure.fit ऐप 'खुद से करें (Do It Yourself)' कंटेंट जैसे वर्कआउट वीडियो और मेडीटेशन सीजन भी प्रदान करता है जिसे यूजर्स डाउनलोड कर अपने घर पर कर सकते हैं। Cure.fit वर्तमान में पहनने योग्य तकनीक और सतत स्वास्थ्य सुधार ट्रैकिंग को शामिल करने के लिए स्मार्ट स्वास्थ्य उपकरणों की एक श्रृंखला पर काम कर रहा है। care.fit वर्टिकल का आगामी लॉन्च cure.fit से स्वास्थ्य और वेलनेस की सीमा का विस्तार करेगा, जिसमें चिकित्सा निदान (केंद्रों और घरों पर), क्लीनिक में डॉक्टरों के साथ परामर्श और फोन (टेली-मेडिसिन), उपचार, और दवाओं की डिलीवरी शामिल होगी। अंकित गुप्ता बताते हैं, "विचार एआई-संचालित समाधान बनना है जो वास्तव में आपके स्वास्थ्य लक्ष्य का प्रबंधन करता हो।" अकित आगे कहते हैं कि "हम उस दिन की प्रतीक्षा कर रहे हैं जब ऐप मानव विशेषज्ञ की तरह व्यवहार करेगा (बैकएंड पर (मानव) के बिना)। यह सबसे पहले आपके (स्वास्थ्य) मुद्दों और स्वास्थ्य लक्ष्यों के बारे में पता लगाएगा और फिर आपको यह मार्गदर्शन करेगा कि आप इसे कैसे प्राप्त कर सकते हैं। "

मुकेश ने जो कुछ किया है वे उसके बारे में स्पष्ट है। वे कहते हैं कि "अगले 10 वर्षों में ... हम देश में 100 मिलियन से अधिक लोगों को प्रभावित कर सकते हैं।" अच्छे स्वास्थ्य का उपहार सिर्फ एक ऐप डाउनलोड है। एक ऐप जिसे लगातार उन पेशेवरों द्वारा परिष्कृत किया जा रहा है जो उनके विकास के साथ-साथ स्वास्थ्य और कल्याण के बारे में भी जुनूनी हैं।

यह भी पढ़ें: अपना सपना पूरा करने के लिए यह यूपीएससी टॉपर रेलवे स्टेशन पर पूरी करता था नींद

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी