बेघर साथियों के लिए अध्ययन फाउंडेशन का पुस्तकालय

अध्ययन फाउंडेशन की ओर से स्थापित किये गये पुस्तकालय-वाचनालय का परिचालन बच्चों के लिए काम करने वाली संस्था प्रयास करेगी, जबकि इसकी बुनियादी जरूरतों की पूर्ति और प्रबंधन अध्ययन फाउंडेशन खुद करेगा।

0

बेघर साथियों को सामाजिक एवं नैतिक उत्थान और देश के विकास का भागीदार बनाने के लक्ष्य के तहत अध्ययन फाउंडेशन ने सरकारी आश्रय आवासों में रह रहे ऐसे बच्चों के लिए एक पुस्तकालय एवं वाचनालय स्थापित किया है।

आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने कश्मीरी गेट स्थित यमुना पुस्ता आश्रय आवास में पुस्तकालय का शुभारंभ करते हुये कहा, ‘‘किसी भी बेहतर समाज के निर्माण में किताबों की भूमिका बहुत उल्लेखनीय होती है। किताबें केवल व्यक्ति के जीवन का परिष्कार ही नहीं करती, बल्कि वह आने वाली पीढ़ियों के लिए भी प्रकाश-स्तंभ होती हैं।’’

अध्ययन फाउंडेशन की ओर से स्थापित किये गये पुस्तकालय-वाचनालय का परिचालन बच्चों के लिए काम करने वाली संस्था प्रयास करेगी, जबकि इसकी बुनियादी जरूरतों की पूर्ति और प्रबंधन अध्ययन फाउंडेशन खुद करेगा।

दिल्ली अर्बन शेल्टर इम्प्रूवमेंट बोर्ड (डुसुब) के सदस्य बिपिन राय ने पुस्तकालय-वाचनालय स्थापित किये जाने की पहल का स्वागत करते हुये कहा, ‘‘समाज के वंचित तबके के लिए पुस्तकालयों की स्थापना समय की आवश्यकता है। वंचित समुदाय को साक्षर एवं शिक्षित करके ही वास्तविक रूप से समाज का उद्धार किया जा सकता है। पुस्तकालय स्थापना सही मायनों में समाजसेवा के उच्च मानदंड हैं। इस प्रकार की पहल का स्वागत है एवं यह प्रोत्साहन योग्य है।’’

बिपिन राय ने संस्था के काम पर संतोष जाहिर किया और इस प्रकार की गतिविधियों के लिए सरकार के स्तर पर सभी सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।  (पीटीआई)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...