पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा से मांगी गई 20 करोड़ की फिरौती, आरोपी गिरफ्तार

0

'अबला जीवन हाय', अब तुम्हारी वो कहानी नहीं रही। कोई दुश्मन से एक बार डरे, औरत से हज़ार बार। उसके सताए की न जान बच पाती है, न सामाजिक प्रतिष्ठा। ब्लैकमेलिंग की ऐसी ही दास्तान पेटीएम के सीईओ की गिरफ्तार सेक्रेटरी सोनिया धवन और जालंधर की मनप्रीत कौर की।

विजय शेखर शर्मा
विजय शेखर शर्मा
विजय शेखर ने पुलिस को बताया है कि 20 सितंबर 2018 को जब वह जापान में थे, थाइलैंड के एक नंबर से उनको ब्लैकमेलर की कॉल मिली। ब्लैकमेलर ने दावा किया कि उनका पर्सनल डॉटा उसके पास पास है। 

याद होगा। जुलाई 2018 की बात है। भोपाल (म.प्र.) से सोशल मीडिया पर एक महिला का वीडियो तेजी से वायरल हुआ, जिसमें वह उन लड़कों की मदद करना चाहती है, जो लड़कियों द्वारा ब्लैकमेल किए गए हों। महिला को ग्वालियर के एक सामाजिक संगठन का मुखिया बताया गया। वीडियो में महिला के पीछे एक बोर्ड लगा है, जिस पर 'ज्वाला शक्ति संगठन' लिखा है। महिला अपना नाम काजल बताती है। वीडियो में महिला कह रही है- 'कुछ लड़कियां पहले दस्ती करती हैं, वक्त गुजारती हैं और अपना स्वार्थ पूरा हो जाने पर लड़कों को ब्लैकमेल करती हैं। ऐसे ही पीड़ित लड़कों की मदद के लिए वह आगे आई है।' फेसबुक पर तो हैडर में किसी औरत का छद्म चेहरा चेंप कर ब्लैकमेल करने का धंधा सा चल पड़ा है। जो लोग झांसे में आ जाते हैं, उन्हें कम से कम इतनी तो चपत लग जाती है कि 'हाय फ्रेंड, और कुछ नहीं तो मेरा मोबाइल ही चार्ज करा दो ना।' और मंजनू चारो खाने चित्त! ट

लेकिन आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसी लेडी की, जो पेटीएम के सीओ की सेक्रेटरी रही है। उसे नोएडा से गिरफ्तार कर लिया गया है। पूरे मीडिया में उसकी बाट लगी पड़ी है। आरोप है कि वह कथित रूप से पेटीएम के मालिक विजय शेखर शर्मा का पर्सनल डॉटा चुराकर उनसे 20 करोड़ रुपए की उगाही करना चाहती थी। यह एक तरह की ब्लैकमेलिंग बताई गई है। बताया गया है कि कंपनी के ही तीन कर्मचारियों ने पहले विजय शेखर का निजी डाटा चुराया, फिर उन्हें ब्लैकमेल करने लगे। नोएडा के सेक्टर 20 में पुलिस रिपोर्ट दर्ज हो गई। पुलिस ने जिन तीन कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है, उनमें एक सीईओ की सेक्रेटरी सोनिया धवन भी हैं। दो अन्य कर्मचारी राहुल और देवेंद्र हैं।

विजय शेखर ने पुलिस को बताया है कि 20 सितंबर 2018 को जब वह जापान में थे, थाइलैंड के एक नंबर से उनको ब्लैकमेलर की कॉल मिली। ब्लैकमेलर ने दावा किया कि उनका पर्सनल डॉटा उसके पास पास है। बातचीत में उसने 20 करोड़ रुपए मांगे। उसने उन्हें धमकी दी कि रुपए न मिलने पर वह सारा पर्सनल डाटा खोल देगा। इससे उनकी छवि खराब हो सकती है। इसके बाद ब्लैकमेलर खाते में दो लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए गए। सूचना मिलते ही नोएडा पुलिस ने अपना ताना-बाना बुना और विजय शेखर की कंपनी पेटीएम के सेक्टर पांच स्थित ऑफिस से इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से उनकी सेक्रेटरी सोनिया धवन, राहुल और देवेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। पूरी साजिश की मास्टरमाइंड सोनिया धवन को बताया जा रहा है। औरत के लिए हमारी भाषिक परंपरा में सर्वाधिक प्रचलित तीन शब्द हैं- स्त्री, नारी और महिला, लेकिन जब वह तीन-तिकड़म से लोगों को ठगने लगे तो उसे क्या कहेंगे! इसी साल सितंबर 2018 की बात है। मलोट (पंजाब) पुलिस को शिकायत मिली कि अमन नगर (मलोट) की गली नं 11 में रह रहे बूटा सिंह की पत्नी गुरमीत कौर उर्फ चाची एक ऐसा गिरोह चला रही है, जो भोलेभाले लोगों की फोटो और वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करता है।

कहते हैं न, कि दुश्मन से एक बार डरो लेकिन औरत से हज़ार बार क्योंकि उसका शिकार तड़प-तड़प कर दम तोड़ देता है। यानी न जान बच पाती है, न सामाजिक प्रतिष्ठा। विजय शेखर शर्मा की ही तरह कुछ साल पहले इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड को एक ईमेल मिला, जिसमें एक ऑस्ट्रेलियाई ने ईसीबी से 24,43,280 डॉलर की डिमांड की। उसने भी धमकी दी कि अगर ईसीबी उसके प्रस्ताव को ठुकराता है, तो वह इंग्लैंड के तत्कालीन कप्तान इयान मोर्गन के पांच साल पुराने एक ऑस्ट्रेलियाई औरत साथ सम्बन्धों का खुलासा कर देगा। इससे ईसीबी को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ सकता है। उसने स्वयं को उस औरत का पार्टनर बताया। फिर क्या था, ईसीबी ने मेट्रोपोलिटन पुलिस को सूचना दे दी। यह तो पता नहीं कि पुलिस उस औरत को पकड़ पाई या नहीं, लेकिन उस वाकये से पूरा क्रिकेट अमला महीनो तक हांफता-कांपता रहा।

ब्लैकमेल करने वाली ऐसी ही दो औरतों का एक और मामला जालंधर (पंजाब) का है। यहां के नई बारादरी थानाक्षेत्र का कुछ माह पुराना वाकया है। पुलिस ने यहां के रणजीत नगर से मनप्रीत कौर को गिरफ्तार कर लिया। उसने थाना पतारा के गांव जौहलां निवासी लव कुमार को अपना पति बताया। पूछताछ में पता चला कि मनप्रीत तो लव कुमार के खिलाफ अपने साथ दुष्कर्म की शिकायत दर्ज करा चुकी है। उसने लव को धमकी दी कि वह उससे शादी कर लेगा तो अपनी रिपोर्ट वापस ले लेगी। इतना ही नहीं, शादी के साथ ही उसे दस लाख रुपए भी देने होंगे।

मनप्रीत वर्ष 2016 में जालंधर बस अड्डे के नजदीक हुई पहली मुलाकात के बाद से ही लव को ब्लैकमेल करने लगी थी। दोनो की गांव जंडूसिंघा के गुरुद्वारे में शादी हो गई। मनप्रीत ने शादी के दो-तीन दिन बाद लव से कहा कि वह अपने फ्रैंड्स के साथ आजादी से जीना चाहती है। वह उसके साथ गांव के घर में नहीं रह सकती। फिर वह मनमाना गायब रहने लगी। इन हरकतों से मनप्रीत के मां-बाप भी डिप्रैशन में रहने लगे। कुछ दिन बाद मनप्रीत ने लव के खिलाफ अदालत में दहेज उत्पीड़न का केस फाइल कर दिया। कोर्ट के आदेश पर उसे मासिक खर्चा मिलने लगा। अब मनप्रीत तलाक देने के बदले 10 लाख रुपए मांगने लगी। इसी बीच पुलिस को पता चला कि मनप्रीत लड़कियों को ब्लैकमेल करती है। वह अपने घर में ही चकला चला रही है। अब तक दस बारह लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर चुकी है।

पुलिस के मुताबिक मनप्रीत लड़कों और लड़कियों को फांसने के बाद घुमाने के लिए चिंतपूर्णी और मैक्लोडगंज (हिमाचल प्रदेश) ले जाती थी। इसी दौरान वह रास्ते में तबीयत अचानक खराब होने के बहाने किसी होटल में रुक जाती थी और पैसे के लिए ऐसे युवक-युवतियों को धमकाने लगती थी। इस सबकी जानकारी मिलने के बाद लव भागकर दिल्ली के मॉडल टाउन में घड़ियां बनाने का काम करने लगा था। मनप्रीत के जेल जाने के बाद ही वह घर लौटा। पता चला है कि मनप्रीत के खिलाफ विभिन्न थानों में आधा दर्जन से ज्यादा शिकायतें विचाराधीन और दो दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें: IIT-IIM ग्रैजुएट्स मोटी तनख्वाह वाली नौकरी छोड़ बदल रहे धान की खेती का तरीका

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

पत्रकार/ लेखक/ साहित्यकार/ कवि/ विचारक/ स्वतंत्र पत्रकार हैं। हिन्दी पत्रकारिता में 35 सालों से सक्रीय हैं। हिन्दी के लीडिंग न्यूज़ पेपर 'अमर उजाला', 'दैनिक जागरण' और 'आज' में 35 वर्षों तक कार्यरत रहे हैं। अब तक हिन्दी की दस किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिनमें 6 मीडिया पर और 4 कविता संग्रह हैं।

Related Stories

Stories by जय प्रकाश जय