घरेलू काम बनाये आसान, ‘हैंडी बुक’ अमेरिका में कमा रहा है नाम

उद्यमी बनने के लिए छोड़ी पढ़ाईसफाई, पेंटिग और प्लम्बिंग से जुड़ी सेवाएं देती है ‘हेंडी बुक’सेवाएं देने के लिए इनके साथ जुटे 300 लोग

0

कई बार सपनों को पूरा करने के लिए रास्ते तक बदलने पड़ते हैं। कुछ ऐसा ही किया उमंग दुआ और ओएसिन हेनरहन ने। जिन्होने अपने सपनों को पूरा करने के लिए हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल की पढ़ाई को बीच में ही छोड़ दिया और लोगों को ऑनलाइन ही सफाई, प्लम्बिंग और पेटिंग की सेवाएं देने लगे। आज इनका कारोबार न्यूयॉर्क, बोस्टन और सेन फ्रांस्सिको में फैला हुआ है।

उमंग दुआ और ओएसिन हेनरहन
उमंग दुआ और ओएसिन हेनरहन

जब कोई हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल जैसे संस्थान में पढ़ाई कर रहा हो और अपने सपनों को पूरा करने के लिए उसे छोड़ दे तो ये बात थोड़ी अटपटी लगती है। उमंग का कहना है कि ये फैसला इतना आसान भी नहीं था। उनको वो जगह काफी पसंद थी और वहां आने वाले छात्र काफी गजब के थे। जब इन लोगों ने ये फैसला लिया तो कुछ लोग ऐसे भी थे जो इनको मूर्ख समझते थे। इन दोनों ने कॉलेज में पढ़ाई के दौरान ही हेंडी बुक लांच कर दी थी जिसके अच्छे परिणाम सामने आने के बाद इन्होने इस बारे में सोचा।

हेंडी बुक एक साधारण सा आइडिया था। घरेलू काम से जुड़ी सेवाएं जैसे साफ सफाई, पेंटिग और प्लम्बिंग जैसे काम के लिये लोग ये नहीं जानते थे कि किस पर विश्वास किया जाए, ये सेवाएं उनको कहां पर मिल सकती हैं और इन सेवाओं को लेने के लिए उनको हकीकत में कितना दाम चुकाना चाहिए। इसके अलावा जब ये लोग बी स्कूल मे अपनी पढ़ाई कर रहे थे तो उस दौरान भी उन्होने ऐसी दिक्कतों से दो चार होना पड़ा था। हेंडी बुक इस सारी समस्याओं का तोड़ थी। जिसने लोगों की समस्याओं को जाना और समझा जिसके बाद उनको दूर करने के लिए साधारण, जल्दी और विश्वास करने लायक तरीका निकाला। इस किताब में घरेलू काम से जुड़ी सभी सेवाओं को शामिल किया गया था। हेंडी बुक में अलग अलग चीजों की सेवाएं देने वालों के बारे में जानकारी तो थी ही साथ ही उनकी उपलब्धता और उनका मूल्य भी निर्धारित तरीके से बताया गया था। इस तकनीक ने इन लोगों को एक प्लेटफॉर्म दिया जो पहले किताब में फिर ऑनलाइन और उसके बाद मोबाइल ऐप में बदल गया। खास बात ये कि कोई भी जानकारी सिर्फ 60 सेकेंड में।

फिलहाल इनकी टीम में करीब 10 लोग काम कर रहे हैं और अगले 3-4 महिनों में ये संख्या दोगुनी होने का अनुमान है। इन लोगों के प्लेटफार्म पर करीब 300 से ज्यादा लोग अपनी सेवाएं दे रहे हैं। जबकि अपनी सेवाएं देने के लिए 15 सौ से ज्यादा लोग इनके साथ जुड़ने को तैयार हैं। उमंग के मुताबिक हेंडी बुक को प्रभावशाली तरीके से निवेशक मिल चुका है। निवेशक की तलाश इन लोगों ने अपने काम की शुरूआत में ही करनी शुरू कर दी थी इसके लिए इन्होने कई निवेशकों के साथ बैठकें की और उनके साथ अपने संबंधों को और गहरा बनाया। ताकि निवेशक इनके काम में हो रही प्रगति के बारे में जान सकें।

हेंडी बुक में कई दिग्गज कंपनियों ने निवेश किया हुआ है इनमें हाईलेंड कैपिटल पार्टनर, जनरल कैटलिस्ट पार्टनर, एंजल इनवेस्टर शामिल हैं। उमंग के मुताबिक वो कंपनी की मार्केटिंग के लिए आनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों का सहारा लेते हैं। जबकि उनका मानना है कि वो अपने काम को बढ़िया तरीके से अंजाम दे रहे हैं और उनको उम्मीद है कि लोग उनके काम के बारे में एक दूसरे को बतायेंगे इससे उनका व्यवसाय बढ़ेगा। हेंडी बुक फिलहाल न्यूयॉर्क, बोस्टन और सेन फ्रांस्सिको में अपनी सेवाएं दे रहा है जिसके बाद कंपनी की योजना जल्द ही अमेरीका के 5-6 दूसरे शहरों में भी ऐसी ही सेवाएं देने की योजना है। आज के जमाने में इस तरह की सेवाएं जरूरी हो गई हैं और इनकी मांग भी बढ़ रही है। बावजूद इसके इस क्षेत्र में खासी चुनौतियां भी हैं जैसे ये असंगठित क्षेत्र होने के अलावा काफी संख्या में ऐसे लोग हैं जिन पर विश्वास करना मुश्किल होता है।