वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक में भारत 39वें स्थान पर पहुंचा

पिछले साल भारत इस सूची में 55वें स्थान पर था। 

0

विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) के वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक में 16 अंक की छलांग लगाकर 39वें स्थान पर पहुंच गया है। कारोबारी जटिलताओं तथा वस्तु बाजार दक्षता में सुधार से भारत की रैंकिंग सुधरी है।

उधर दूसरी तरफ स्लविट्ज़रलैंड लगातार आठवीं बार भी सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था बना है। इस सूची में सिंगापुर दूसरे तथा अमेरिका तीसरे स्थान पर रहा है।

पिछले साल भारत इस सूची में 55वें स्थान पर था। ब्रिक्स : ब्राजील, रूस, भारत, चीन, दक्षिण अफ्रीका: देशों में भारत पड़ोसी चीन के बाद दूसरे नंबर पर है। चीन इस सूची में 28वें स्थान पर है। इंडेक्स में भारत के अंक 4.52 रहे, जबकि पहले स्थान पर रहने वाले स्विट्जरलैंड के 5.81 अंक थे। सूची में नीदरलैंड चौथे, जर्मनी पांचवें, स्वीडन छठे, ब्रिटेन सातवें, जापान आठवें, हांगकांग नौवें तथा फिनलैंड दसवें स्थान पर हैं।

इस साल सूची में 138 अर्थव्यवस्थाओं की प्रतिस्पर्धा को परखा गया। 2015-16 की सूची में 140 अर्थव्यवस्थाओं को शामिल किया गया था।