मेनका ने ओबामा से किया ‘रनिंग ऑफ द बुल’ कार्यक्रम में शिरकत न करने का अनुरोध

0


केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा से स्पेन के शहर पम्पलोना में आयोजित होने वाले ‘सैन फर्मिन महोत्सव’ के दौरान सालाना ‘रनिंग ऑफ द बुल्स’ कार्यक्रम में शिरकत नहीं करने का अनुरोध किया है।

मेनका ने एक पत्र में कहा, ‘‘कार्यक्रम में प्रयुक्त होने वाले 48 सांड फिसलने, गिरने पर उत्तेजित होकर आतंकित हो जाते हैं और खुद को घायल कर लेते हैं अथवा उनके रास्ते में आने वाले मनुष्यों की मौत का कारण बनते हैं।’’ 26 जून को लिखे इस पत्र को ‘पिपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स’ (पेटा) ने कल वाशिंगटन में जारी किया।

पत्र में केंद्रीय मंत्री ने यह उल्लेख किया है कि सांडों की लड़ाई का प्राचीन काल से प्रदर्शन होता आया है, जिसने स्पेन वासियों का समर्थन खो दिया है और स्पेन के कई हिस्सों तथा अन्य देशों जैसे कि भारत, अर्जेंटीना, कनाडा, क्यूबा, डेनमार्क, इटली और ब्रिटेन में इस पर प्रतिबंध भी लगा है।

मेनका ने लिखा, ‘‘आप जिस पद पर आसीन हैं, वहां पशुओं और उनके उपर होने वाले अत्याचार के खिलाफ कदम उठाना प्रभावी कदम होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘क्या आप इस बर्बर कार्यक्रम में शामिल होने से कृपया करके मना नहीं कर सकते और इस तरह की क्रूरता के खिलाफ बोल नहीं सकते? अगर आप ऐसा करेंगे तो निश्चित रूप से पूरी दुनिया के दयालु लोग इसका जश्न मनाएंगे।’’ बहरहाल, व्हाइट हाउस ने हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति के पम्पलोना की यात्रा की पुष्टि नहीं की है। (पीटीआई)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...