कॉल करना भूल जाते हों, तो ना हों परेशान, 'Call Looper' करेगा मदद

युवाओं को लिए रोचक तो बुजुर्गों की जरूरत बना Call Looperमुफ्त में लें Call Looper की सुविधाएं नवंबर, 2013 में Call Looper शुरूआत

0

संदीप नायर एक बार अपनी एक महिला दोस्त को उनके जन्मदिन पर मुबारकबाद देना भूल गए तो अगले दिन उनको खूब खरी खोटी सुननी पड़ी। भविष्य में ऐसा दोबारा ना हो इसके लिए उन्होने अपने दोस्त आशुतोष वलानी से मदद मांगी। जिन्होने उनके लिए एक खास तरह का ऐप बनाया और उसका नाम रखा Call Looper। इस ऐप की मदद से आप पहले से तय कर सकते हैं कि किस वक्त आपको कॉल करनी है या फिर टेक्सट मैसेज या ई-मेल भेजना है। हालांकि इस तरह के बाजार में कई दूसरे ऐप भी मौजूद हैं लेकिन Call Looper की सेवाएं एकदम मुफ्त हैं। फिलहाल ये सेवा सिर्फ ऐनरोइड फोन के लिए उपलब्ध है।

आशुतोष वलानी, सह-संस्थापक, एम गुरू
आशुतोष वलानी, सह-संस्थापक, एम गुरू

Call Looper ऐप बनाने वाले आशुतोष ने Brunel विश्वविद्यालय से इंटरनेशनल बिजनेस की पढ़ाई पूरी की और उसके बाद ई-कॉमर्स के कारोबार में आ गए। जबकि संदीप के पास एमसीए की डिग्री थी। दोनों ने मिलकर ‘एमगुरू’ नाम की मार्केटिंग एजेंसी खोली और Call Looper के विकास में भी इसी कंपनी का हाथ है। Call Looper की मदद से की भी पहले से निर्धारित वक्त पर कई कॉल कर सकता है या एसएमएस भेज सकता है। इसके लिए उपयोगकर्ता को सिर्फ फोन नंबर डालने होते है साथ ही दिन और वक्त की जानकारी भी देनी होती है। इसके अलावा अगर कोई चाहे तो अलार्म की जगह ऑटोमेटिक स्विच के जरिये ये स्पीकर से भी पूर्व निर्धारित कॉल की जानकारी देता है।

आशुतोष और संदीप ने अक्टूबर, 2013 में अपनी इस समस्या को दूर किया और इस काम में मदद ली फ्रीलांस ऐप डेवलपर की ताकि अपनी सोच को एक शक्ल दी जाए। नवंबर, 2013 में Call Looper को शुरू कर दिया गया और कुछ ही समय में इसको 1000 डाउनलोड मिल गये। इस ऐप को डाउनलोड करने वालों में ना सिर्फ युवा बल्कि कई बुजुर्ग लोग भी शामिल थे। यही कारण है कि गूगल प्ले स्टोर में इसकी रेटिंग 4.5 है।

Call Looper दोबारा कॉल करने का भी विकल्प देता है। बस उपयोगकर्ता को वक्त की जानकारी बतानी होती है। फर्ज करिये किसी को दिन भर में अपने 10 ग्राहकों को अलग अलग वक्त पर फोन करना है तो Call Looper समय से पहले ही इसकी जानकारी आपको दे देगा। ये ऐप केवल 307 केबी की क्षमता का है जो आपके फोन में ज्यादा जगह भी नहीं लेता। इस ऐप के दूसरे विकल्पों में ब्लॉक कॉल की सुविधा भी है। अगर कोई व्यक्ति किसी खास नंबर को अपने फोन में नहीं लेना चाहता तो ये फोन उस नंबर को ब्लॉक कर देता है। Call Looper के जरिये आप तय कर सकते हैं कि कब और किस वक्त आप किसी खास कॉल को ब्लॉक करना चाहते हैं।

Call Looper के सह-संस्थापक अब इसके जरिये अपनी आय बढ़ाने के तरीकों पर भी विचार कर रहे हैं, लेकिन ये तभी संभव है जब ढेर सारे लोग इस ऐप को डाउनलोड करें। हालांकि इनका मुख्य उद्देश्य लोगों की जिंदगी को पहले से बेहतर और आसान बनाना है। इन लोगों ने इस ऐप का निर्माण भारतीय उपयोगकर्ताओं को ध्यान में रखकर किया था और इस पर लागत आई थी 60 हजार रुपये। Call Looper की कोशिश निरंतर अपने में सुधार करने की है इसके लिए ये लोग लागातार लोगों से मिल रही प्रतिक्रियाओं पर खास नजर रखते हैं। अहमदाबाद से शुरू हुई ये कंपनी अब आईओएस के लिए भी ऐप लाने वाली है।