अब बचत खाते से हर हफ्ते निकालें 50 हजार रुपए

मोदी सरकार ने नोटबंदी को लेकर एक और बड़ा बदलाव किया है, 20 फरवरी यानी कि आज से बचत खाते से हर हफ्ते 50 हजार रुपए तक निकाले जा सकते हैं। यह सीमा अभी 12 मार्च तक के लिए है।

0

"आज से यानी कि 20 फरवरी 2017 से बचत खाते (सेविंग अकाउंट) से एक हफ्ते में 50,000 रुपए तक निकाले जा सकते हैं।

"आरबीआई ने 30 जनवरी 2017 को चालू खाता, कैश क्रेडिट अकाउंट और ओवरड्राफ्ट अकाउंट से निकासी पर लगी सभी किस्म की सीमा को खत्म कर दिया था।"

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने नोटबंदी के बाद बचत बैंक खाते पर लगी निकासी की सीमा में ढील देने का यह ऐलान 8 फरवरी को किया था, जोकि आज से लागू हो रहा है। आरबीआई के मुताबिक, यह सीमा केवल 13 मार्च तक लागू रहेगी। इसके बाद बचत खाते से पैसे निकालने को लेकर कोई सीमा नहीं होगी। गौरतलब है, कि जो भी रकम एटीएम से निकाली जाती है, वो भी सेविंग खाते से निकासी में ही गिनी जाती है।

"भारतीय रिज़र्व बैंक का 8 फरवरी को किया गया ऐलान आज से लागू हो रहा है।"

8 नवंबर को नोटंबदी के बाद से खातों से निकाले जाने वाली रकम पर कैश की सप्लाई मांग के मुताबिक कम होने के चलते लिमिट लगा दी गई थी। इस पर समय समय पर समीक्षा की गई और ढील दे दी गई। इन सबके साथ आरबीआई ने 30 जनवरी को चालू खाता, कैश क्रेडिट अकाउंट और ओवरड्राफ्ट अकाउंट से निकासी पर लगी सभी किस्म की सीमा को खत्म कर दिया था।

"आरबीआई ने 8 नवंबर को 1000 और 500 रुपए के नोटों पर प्रतिबंध के बाद खातों से निकासी पर सीमा लगाई थी. उस वक्त एटीएम से निकासी की अधिकतम सीमा 2,500 रुपए रखी गई थी. इसे बाद में बढ़ाकर 4,500 रुपए कर दिया गया था. 1 जनवरी से आरबीआई ने एटीएम से निकासी की सीमा को बढ़ाकर 10,000 रुपए और करंट अकाउंट से निकासी की सीमा को बढ़ाकर 1 लाख रुपए कर दिया था।"