ऋण प्रतिभूति ई-बुक प्लेटफार्म ने पहले दिन जुटाये 535 करोड़

0

देश के प्रमुख शेयर बाजारों बीएसई और एनएसई ने आज निजी आवंटन के ज़रिए ऋण प्रतिभूतियों को जारी करने के लिए इलेक्ट्रोनिक बुक प्रणाली का प्लेटफार्म शुरू किया। प्लेटफार्म में 1 जुलाई को पहले ही दिन दो इश्युओं के ज़रिए 535 करोड़ रुपये जुटा लिये गये और इनमें जरूरत से अधिक अभिदान प्राप्त हुआ।

बीएसई-बॉंड और एनएसई-ईबीपी (इलेक्ट्रानिक रिणपत्र बोली प्लेटफार्म) ऋण प्रतिभूतियों के लिए निजी नियोजन के आधार पर ऑनलाइन बोली लगाने का प्लेटफार्म है।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज(बीएसई) ने एक वक्तव्य में कहा कि बीएसई-बांड प्लेटफार्म पर पहला इश्यू एचडीबी फाइनेंशियल सर्विसेज का जारी किया गया। यह इश्यू 100 करोड़ रुपये का था, जिसके लिये पूरे आवेदन प्राप्त हो गये। एचडीएफसी बैंक ने इस इश्यू के लिए व्यवस्थापक का काम किया।

एनएसई ने अलग से जानकारी देते हुये कहा कि एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस ने आज शुरू किये गये नये प्लेटफार्म एनएसई-ईबीपी के जरिये 435 करोड़ रुपये जुटाये। बोली लगाने के लिये विंडो 30 मिनट के लिए खोली गई।

इश्यू को सात प्रबंधकों ने व्यवस्थित किया था। इनमें एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, आईडीएफसी बैंक, एसबीआई कैपिटल ट्रस्ट इनवेस्टमेंट एडवाइजर्स और आईएसईसी पीडी शामिल हैं।

शेयर बाजारों में की गई इस पहल से बाँड बाजार को विकसित करने में मदद मिलेगी। इससे रिण प्रतिभूतियों के निजी नियोजन बाजार में मूल्य खोज में अधिक सक्षमता और पारदर्शिता लाई जा सकेगी। (पीटीआई)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...