21,631 फुट ऊंचे माउंट मनीरंग को फतह करने निकला महिला पर्वतारोहियों का दल

0

माउंट मनीरंग अभियान पर निकले 19 सदस्‍यीय महिला पर्वतारोही दल की अगुवाई जानी-मानी पर्वतारोही सुश्री बिमला नेगी कर रही हैं। वह 1993 में माउंट एवरेस्‍ट अभियान पर गये महिला दल में भी शामिल थीं।

दल का नेतृत्व कर रहीं बिमला नेगी के साथ राज्यवर्धन सिंह राठौड़
दल का नेतृत्व कर रहीं बिमला नेगी के साथ राज्यवर्धन सिंह राठौड़
माउंट मनीरंग अभियान दल में उत्‍तराखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, महाराष्‍ट्र, मध्‍य प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, मणिपुर और हिमाचल प्रदेश की युवा महिला पर्वतारोहियों के अलावा 1993 के अभियान दल की 9 सदस्‍य भी शामिल हैं। 

देश के सूचना और प्रसारण तथा युवा और खेल मामलों के राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) कर्नल राज्‍यवर्धन राठौर ने हाल ही में महिला पर्वतारोहियों के एक दल को हिमाचल प्रदेश के माउंट मनीरंग अभियान पर रवाना किया। यह चोटी समुद्र तल से 21,631 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। यह अभियान महिलाओं के 1993 के माउंट एवरेस्‍ट अभियान की रजत जंयती के उपलक्ष्‍य में आयोजित किया गया है।

कर्नल राठौर ने महिला पर्वतारोही दल को मनीरंग अभियान पर भेजने के लिए भारतीय पर्वतारोहण फांउडेशन के प्रयासों की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि इससे समाज में यह संदेश गया है कि यदि अवसर दिए जाएं तो लड़कियां भी चुनौतियों का सामना कर अपनी पहचान बना सकती हैं। उन्‍होंने कहा कि यह इस बात का भी संकेत है कि बच्‍चों को यह फैसला लेने का मौका दिया जाना चाहिए कि आखिर वह भविष्‍य में क्‍या करना चाहते हैं। कर्नल राठौर ने कहा कि प्रधानमंत्री यह कहते रहे हैं कि जो खेलों में हिस्‍सा लेते हैं वही फलते फूलते हैं।

माउंट मनीरंग अभियान पर निकले 19 सदस्‍यीय महिला पर्वतारोही दल की अगुवाई जानी-मानी पर्वतारोही सुश्री बिमला नेगी कर रही हैं। वह 1993 में माउंट एवरेस्‍ट अभियान पर गये महिला दल में भी शामिल थीं। माउंट मनीरंग अभियान दल में उत्‍तराखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, महाराष्‍ट्र, मध्‍य प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, मणिपुर और हिमाचल प्रदेश की युवा महिला पर्वतारोहियों के अलावा 1993 के अभियान दल की 9 सदस्‍य भी शामिल हैं। इस अभियान दल के 24 अगस्‍त को माउंट मनीरंग पर पहुंचने की संभावना है।

महिलाओं के दल के साथ खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़
महिलाओं के दल के साथ खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़

माउंट मनीरंग अभियान दल में शामिल लड़कियों में से कुछ ऐसे राज्‍यों से भी हैं जहां न तो पर्वत है और नही बर्फ है। यह चुनौतियों से निपटने की लड़कियों की दृढ़ इच्‍छाशक्ति को दर्शाता है। खेल मंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि देश में साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए ज्‍यादा वित्‍तीय मदद की जरुरत है।

वर्ष 1993 में माउंट एवरेस्‍ट अभियान पर गया भारत-नेपाल पवर्तारोही दल भारतीय पर्वतारोहण फाउंडेशन की ओर से भेजा गया पहला महिला पर्वतारोही दल था। इस अभियान को खेल और युवा मामलों के मंत्रालय की ओर से वित्‍तीय मदद दी गई थी। इस 21 सदस्‍यीय दल की अगुवाई सुश्री बछेन्‍द्रीपाल ने की थी। अभियान दल ने कई विश्‍व कीर्तिमान बनाए थे,जिसमें एक अकेले अभियान में सबसे ज्‍यादा 18 लोगों के माउंट एवरेस्‍ट को फतह करने तथा एक ही देश की सबसे ज्‍यादा 6 महिला पर्वतारोहियों के माउंट एवरेस्‍ट पर पहुंचना शामिल था।

यह भी पढ़ें: मल्टीप्लेक्स का अनोखा प्रयास, शारीरिक और मानसिक रूप से अक्षम बच्चों के लिए अलग से शो

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी