वाटरकार्ड के जरिए पानी उपलब्ध कराने वाले उत्पाद बनाएगी डेनमार्क की कंपनी

0

पीटीआई


डेनमार्क की पानी पंप बनाने वाली कंपनी ग्रूंडफोस भारत में एक ऐसी पानी देने वाली प्रणाली पेश करेगी जो एटीएम की तरह ‘वाटरकार्ड’ स्वीकार करेगी और सामान्य पानी को ग्राहकों के लिए स्वच्छ पेयजल में बदलेगी। यह आधुनिक प्रणाली एक तरह से पानी के एटीएम के रूप में काम करेगी जिससे स्मार्टकार्ड के जरिए पानी लिया जा सकेगा।

ग्रूंडफोस दुनिया की सबसे बड़ी पंप विनिर्माता कंपनी है। कंपनी भारत में अपने एक्यूप्योर व एक्यूटैप उत्पाद पेश करने जा रही है। ग्राहक इस प्रणाली में स्मार्टकार्ड के जरिए भुगतान कर पेयजल ले सकेंगे।

ग्रूंडफोस लाइफलिंक के प्रबंध निदेशक पीटर टोबजर्ग हनसेन ने कल संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कंपनी ने उक्त दोनों उत्पादों को टीसीएस के साथ गठजोड़ में बनाया है।

एक्यूप्योर जलशोधन मोडयूलर है जो कि अल्ट्राफिल्ट्रेशन प्रौद्योगिकी के जरिए सामान्य पानी को पीने योग्य बनाता है जबकि एक्यूटैप जल वितरक या डिस्पेंसर है।

उन्होंने बताया कि इस आधुनिक पानी वितरण प्रणाली को एटीएम के रूप में तैयार किया गया है जिसमें टचस््रकीन तथा एक यूजर इंटरफेस है जिसमें कार्ड लगाने की जरूरत पड़ेगी।

इस स्मार्ट वाटर कार्ड को नकदी से या मोबाइल पैमेंट से रिचार्ज किया जा सकेगा। कंपनी ने भारत में कम आयवर्ग वाले समुदायों को समाधान उपलब्ध कराने वाले संगठन ईकुटीर से भी गड़जोड़ किया है। यह प्रणाली सौर उर्जा से चल सकती है और पूर्णत: स्वचालित है।