देश भर के इनोवेशन्स को एक जगह पर लाने के लिए लॉन्च हुआ ‘इनोवेट इंडिया प्लेटफॉर्म’

अटल इनोवेशन मिशन, नीति आयोग और माईगव ने किया लॉन्च...

0

 इनोवेट इंडिया माईगव-एआईएम पोर्टल राष्ट्रीय स्तर पर बुनियादी एवं गहन तकनीक वाले अन्वेषकों दोनों को ही पंजीकृत करने के लिए अत्यंत आवश्यक इनोवेशन प्लेटफॉर्म का सृजन करता है।

ऐसे लोग जो किसी महत्वपूर्ण इनोवेशन की तलाश में हैं वे अर्थव्यवस्था के फायदे के साथ-साथ राष्ट्रीय सामाजिक जरूरतों की पूर्ति के लिए इस पोर्टल से लाभ उठा सकते हैं।

अटल इनोवेशन मिशन के मिशन निदेशक श्री आर.रमणन और माईगव के सीईओ श्री अरविंद गुप्ता ने बीते गुरुवार को ‘इनोवेट इंडिया प्लेटफॉर्म’ लॉन्च किया, जो अटल इनोवेशन मिशन और भारत सरकार के नागरिक केंद्रित प्लेटफॉर्म ‘माईगव’ के बीच गठबंधन है। इनोवेट इंडिया पोर्टल देश में होने वाले समस्त अभिनव कदमों के लिए एक साझा केंद्र के रूप में काम करेगा।

इस प्लेटफॉर्म को लॉन्च करते हुए अटल इनोवेशन मिशन के मिशन निदेशक ने कहा कि इनोवेट इंडिया माईगव-एआईएम पोर्टल राष्ट्रीय स्तर पर बुनियादी एवं गहन तकनीक वाले अन्वेषकों दोनों को ही पंजीकृत करने के लिए अत्यंत आवश्यक इनोवेशन प्लेटफॉर्म का सृजन करता है। ऐसे लोग जो किसी महत्वपूर्ण इनोवेशन की तलाश में हैं वे अर्थव्यवस्था के फायदे के साथ-साथ राष्ट्रीय सामाजिक जरूरतों की पूर्ति के लिए इस पोर्टल से लाभ उठा सकते हैं।

इनोवेट इंडिया प्लेटफॉर्म की कुछ विशेषताएं निम्नलिखित हैं-

यह प्लेटफॉर्म सभी भारतीय नागरिकों के लिए खुला हुआ है। इसके उपयोगकर्ता (यूजर) #इनोवेट इंडिया पोर्टल पर एकत्रित इनोवेशनों को देख सकते हैं, टिप्पणी एवं साझा कर सकते हैं और इसके साथ ही इनकी रेटिंग भी कर सकते हैं। लीडरबोर्ड का अवलोकन कर सकते हैं, जिसकी गणना प्रत्येक इनोवेशन को मिले वोटों के आधार पर की जाती है। नागरिक माईगव वेबसाइट पर लॉग-इन करके अपने/संगठन/किसी और के इनोवेशन को इस प्लेटफॉर्म पर साझा कर सकते हैं। इन इनोवेशनों को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों जैसे कि व्हाट्सएप, फेसबुक और ट्विटर पर भी साझा किया जा सकता है।

माईगव के सीईओ श्री अरविंद गुप्ता ने कहा कि भारत एक अत्यंत इनोवेशन उन्मुख समाज है, लेकिन हमारे समक्ष चुनौती इनोवेशनों के प्रति संरचित अवधारणा अपनाने, उन्हें दर्ज करने और एक ऐसा परितंत्र बनाने की है जिससे कि उन्हें वैश्विक स्तर पर पहुंचाना संभव हो सके। जमीनी स्तर से ही इनोवेशनों की पहचान करने एवं उन्हें आवश्यक सहायता प्रदान करने की वर्तमान सरकारी पहल का लक्ष्य भारत के इनोवेशनी स्वरूप को प्रोत्साहित, विस्तारित एवं विकसित करने के लिए एक संरचित परितंत्र का सृजन करना है।

इस प्लेटफॉर्म को लॉन्च करने के साथ ही भारत के लोग अब अपने/संगठन के इनोवेशन को इस प्लेटफॉर्म पर अपलोड एवं उसकी रेटिंग करने में समर्थ हो जाएंगे। देश के नागरिक https://innovate.mygov.in/innovateindia/ के जरिए प्लेटफॉर्म पर पहुंच सकते हैं।

यह भी पढ़ें: एक रात की नींद ने शुरू कराया स्टार्टअप, अब हर महीने 24 करोड़ रुपये का टर्न ओवर 

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी